शेयर मार्केट क्या है और शेयर कैसे खरीदते है 2022 में (आसान फुल गाइड)

दोस्तों हर कोई पैसा कमाना चाहता है हर कोई अमीर बनना चाहता है और इसी वजह से लोग अपनी मेहनत की कमाई का पैसा बिना किसी रिसर्च या अनुभव के स्टॉक मार्केट में लगा देते हैं और उनका पैसा डूब जाता है.

बिना जानकारी के कोई काम करना जोख़िम भरा हो सकता है उसी प्रकार अपने पैसे को शेयर बाजार में बिना जानकारी के लगाना ये भी जोख़िम भरा हो सकता है.

उस नुकसान से खुद को बचाने के लिए हमने ये आर्टिकल शेयर मार्केट क्या है और उससे जुडी हुई ज़रूरी जानकारी को शेयर किया है ताकि आप शेयर मार्केट से अच्छा पैसा कमा सके हैं और कम जोखिम उठा सकें।

शेयर बाज़ार को जाने से पहले हमें ये जानना होगा कि शेयर क्या होता है और उसके प्रकार। तभी हम अपने शेयर मार्केट के बेसिक्स को मजबूत कर सकते हैं.

Table of Contents

शेयर क्या है?

Stock Market Kya Hai

शेयर को अगर एक शब्द में समझाएं तो “हिस्सा” कहते हैं. आसान भाषा में शेयर उसे कहते हैं जब कोई कम्पनी अपनी ग्रोथ को बढ़ाने के लिए किसी व्यक्ति को अपनी कम्पनी के मालिकाना हिस्से/हक़ को बेचती है तो उसे Share कहते है.

जो व्यक्ति उस शेयर को खरीदता है उसे उस कंपनी का Shareholder कहते हैं. शेयर को स्टॉक भी बोला जाता है.

शेयर कितने प्रकार के होते हैं?

शेयर 3 प्रकार के होते हैं:

  1. Equity Share
  2. Preference Share
  3. DVR Share

1. Equity Share

Equity Share वो शेयर होते हैं जो स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड कंपनियों द्वारा इशू किए जाते हैं. स्टॉक एक्सचेंज ऐसी जगह हैं जहाँ पर स्टॉक या शेयर को खरीद व बेचा जाता है.

Equity Share ही सबसे ज्यादा खरीदे और बेचे जाते हैं क्योंकि स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड ज्यादातर कंपनियां इस शेयर को इशू करती हैं.

2. Preference Share

Preference Share equity share से बस थोड़ा सा अलग होते हैं. Preference Shareholder को कंपनी की किसी भी मीटिंग में हिस्सा नहीं लेने दिया जाता है और उसे कंपनी से मिलने वाले फायदे को पहले ही से तय कर दिया जाता है.

3. DVR Share

DVR Share का फुल होता है : Share With Differential Voting Rights

DVR Share Preference Share और Equity Share की तुलना में अलग होते हैं. DVR Shareholder Equity Shareholder की तरह वोट नहीं कर सकते हैं क्योंकि इनके वोटिंग राइट्स सुनिश्चित होते हैं 

शेयर मार्केट क्या है?

शेयर मार्केट को आसान भाषा में इस तरह से परिभाषित कर सकते हैं कि शेयर मार्केट एक ऐसा मार्केट हैं जहाँ पर किसी कंपनी के शेयर को खरीदा और बेचा जाता है.

शेयर मार्केट को स्टॉक मार्केट, इक्विटी मार्केट और शेयर बाज़ार के नाम से भी जाना जाता है.

किसी कम्पनी को स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट किए बिना उसके शेयर को खरीदा व बेचा नहीं जा सकता है, भारत के 2 प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज हैं: 

  1. BSE (Bombay Stock Exchange) 
  2. NSE (National Stock Exchange)

इन स्टॉक एक्सचेंज को SEBI (Securities and Exchange Board of India) द्वारा रेगुलर या कंट्रोल किया जाता है. ये SEBI ही स्टॉक मार्केट के नियमों को बनाती है जो कि यह एक गवर्नमेंट बॉडी है या ये सरकार के अंडर में आती है.

भारतीय स्टॉक मार्केट में 2 Benchmark प्रमुख है पहला Sensex और दूसरा NIFTY. Benchmark ये बताता है कि किसी particular index की कंपनियों का परफॉर्मेंस कैसा है.

Sensex BSE में लिस्टेड देश की टॉप 30 companies की performance को दर्शाता है जबकि NIFTY NSE में लिस्टेड देश की टॉप 50 companies की performance को दर्शाता है

चाहे आप अपना पैसा स्टॉक मार्केट में या म्यूचुअल फंड में निवेश करें। इन दोनों के SEBI द्वारा ही रेगुलेट किया जाता है

स्टॉक मार्केट में लोग मिनटों में लाखों और करोड़ों रुपये कमा भी लेते हैं और गवां भी देते हैं. ये मार्केट जितना ही रिस्की है उतना ही आपको पैसा कमा के दे सकता है बस आपको इस मार्केट के बारे में बहुत अच्छी या बेसिक जानकारी तो होना बहुत ही जरूरी है.

शेयर मार्केट में पैसा लगाने से पहले ये बातें ज़रूर ध्यान रखें

शेयर मार्केट में नए निवेशक या Beginner Investor ज़्यादातर बिना जानकारी के अपना पैसा लगा देते हैं और बाद में उनको नुकसान उठाना पड़ता है और फिर कहते हैं कि स्टॉक मार्केट एक स्कैम है.

आप जब भी शेयर मार्केट में निवेश करें तो नीचे शेयर की गईं बातों का ध्यान ज़रूर रखें

1. चुनाव करें

सबसे पहले आप चुनाव करें कि आपको Trader बनना है या फिर Investor. Trader वो होता है जो मार्केट में पैसा शॉर्ट टर्म के लिए  लगता है जबकि Investor अपना पैसा लॉन्ग टर्म के लिए लगाता है

2. कम्पनी के फंडामेंटल की जानकारी

किसी भी कंपनी के fundamentals स्ट्रांग नहीं  हैं तो वो कंपनी लॉन्ग टर्म में ग्रो नहीं कर पायेगी और तो फिर आपको नुकसान झेलना पड़ सकता है. 

इसलिए किसी भी कम्पनी में इन्वेस्ट करने से पहले उसके fundamentals के जानकारी ज़रूर लें.

3. कही सुनी या इधर उधर की बातों से बचें

नए इन्वेस्टर्स अक्सर लोगों से इधर उधर की बातों को सुनकर किसी कंपनी में इन्वेस्ट कर देते हैं और नुकसान के भोगी बन जाते हैं.

अक्सर नए निवेशक टिप के तलाश में रहते हैं जोकि उनके लिए गलत स्ट्रेटेजी होती है. किसी की भी स्ट्रेटेजी को फॉलो न करें क्योंकि उनके गोल्स आपके गोल्स से अलग हो सकते हैं.

4. कभी भी जल्दबाजी में निवेश न करें

देखा गया है कि नए निवेशक FOMO (Fear of Missing Out) के तहत अपना पैसा स्टॉक मार्केट में लगा देते हैं कि कहीं ये opportunity miss ना हो जाये।

जिसके कारण उनको नुकसान झेलना पड़ता है तो आप इससे बचें। बिना रिसर्च किये हुए किसी भी स्टॉक में निवेश ना करें।

4. निवेश में अनुशासन जरूरी

जिस तरह से बॉडी बनाने वाले इंसान के लिए अनुशासन जरुरी होता है उसी प्रकार पैसा बनाने वाले के लिए अनुशासन उतना ही जरुरी होता है. मार्किट में देखा जाता है कि उतार-चढ़ाव चला ही करता है

ऐसे में निवेशक घबरा जाता है कि उसका पैसा डूब ना जाये। ऐसे समय में आपको अपनी भावनाओं को काबू करके अनुशासनशील बनना है और मार्केट में बने रहना है.

5. बाजार में अपना सरप्‍लस फंड ही लगाएं

सरप्‍लस फंड से मतलब है कि वो पैसा जो खर्चों और अन्य जरूरतों को पूरा करने के बाद बचता है. कभी भी एक नए निवेशक को किसी से उधार लेकर पैसा बाजार में निवेश नहीं करना चाहिए। 

अगर पैसा डूब जाता है तो आप कर्ज़ में चले जाते हैं और पैसा ना चुका पाने की सूरत में आपके सम्बन्ध उस व्यक्ति से ख़राब हो सकते हैं.

कुछ और महत्वपूर्ण तथ्य:

  • कंपनी के पिछले साल के परफॉरमेंस को चेक करें
  • कंपनी की Assets और Liabilities को चेक करें
  • कंपनी के Cash Flow statement को चेक करें
  • कंपनी की Balance Sheet को अच्छे से चेक करें
  • Websites जैसे कि: moneycontrol.com, Economic Times, NDTV Business आदि से कंपनी के बारे में खुद को अपडेट रखें

इन सभी बातों से तथ्यों से आपको पता ही चल गया होगा कि अपने शेयर को कब खरीदे और कब बेचे। जिससे आप एक समझदार निवेशक या ट्रेडर बन सके.

किसी कंपनी का शेयर कैसे खरीदें?

अगर हम किसी भी कम्पनी के शेयर को खरीदना या बेचना चाहते हैं तो हमारे पास इन 3 चीज़ों का होना जरुरी है:

  1. Saving Account
  2. Demat Account
  3. Trading Account

1. Saving Account: Saving Account का इस्तेमाल शेयर को खरीदने के लिए payment के रूप में किया जाता है.

2. Demat Account: Demat Account वो account होता है जिसमे किसी कम्पनी के खरीदे गए शेयर को डिजिटल प्रूफ के रूप में स्टोर किया जाता है.

और जब उसे बेचना चाहते हैं तो वो शेयर वहां से उठकर वापस कम्पनी को चला जाता है. और उस शेयर पर जो प्रॉफिट बनता है वो आपके सेविंग अकाउंट में आ जाता है.

ज्यादातर ब्रोकरेज कंपनियां डीमैट अकाउंट ओपन करने के साथ साथ फ्री में ट्रेडिंग अकाउंट भी ओपन कर देती हैं 

3. Trading Account: Trading Account वो अकाउंट होता है जिसके द्वारा आप शेयर को buy/sell करते हैं. क्योंकि आप directly stocks को buy/sell नहीं कर सकते हैं 

इसलिए आपको किसी Brokerage Company (जैसे: Angle One, Zerodha आदि) में अपना Trading Account open करना होगा ताकि आप आसानी से शेयर को buy/sell कर सकें।

किसी कम्पनी के शेयर को खरीदने के आसान कदम ये हैं:

स्टेप 1: सबसे पहले आप किसी Brokerage Company में अपना डीमैट अकाउंट ओपन करें

स्टेप 2: फिर उसके बाद डीमैट अकाउंट को अपने बैंक अकाउंट से लिंक करें

स्टेप 3: किसी शेयर को खरीदने से पहले अपने बैंक अकाउंट में पैसे add करें

स्टेप 4: अब आप जब शेयर खरीदते हैं तो उसका पैसा आपके बैंक अकाउंट से कटकर कम्पनी के पास चला जाता है और कम्पनी का खरीदा गया शेयर आपके डीमैट अकाउंट में स्टोर हो जाता है.

शेयर मार्केट कैसे काम करता है?

शेयर मार्केट 3 कड़ियों से जुड़कर बना है:

  1. Stock Exchanges
  2. Broker
  3. Investor

भारत के सबसे बड़े और प्रमुख 2 Stock Exchanges BSE और NSE हैं. जब कोई कम्पनी अपने कारोबार को आगे बढ़ने के लिए जब पहली बार स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट होती है तो उसे IPO (Initial Public Offering) कहते हैं. 

IPO के द्वारा या फिर कंपनी के लिस्ट होने के बाद कोई Investor उस कंपनी के शेयर खरीदना चाहता है तो वो directly शेयर्स को नहीं खरीद सकता। तो इसके लिए उसे किसी Broker की जरूर पड़ती है.

भारत में बहुत ही पॉपुलर Brokerage Companies जैसे: Angle One, Groww, Zerodha आदि है जिनकी आप Website या Mobile App के द्वारा Demat/Trading Account को ओपन करके शेयर को Buy/Sell कर सकते हैं. 

शेयर मार्किट कब बढ़ता है और कब घटता है?

शेयर मार्केट mainly 2 reasons से बढ़ता और घटता है जोकि है Demand और Supply. 

अगर किसी चीज़ की डिमांड बढ़ जाती है और सप्लाई काम होती है तो उसके शेयर का price बढ़ जाता है और वहीँ अगर किस चीज़ की डिमांड घट जाती है और सप्लाई ज्यादा होती है तो उसके शेयर का price घट जाता है

शेयर बाजार के नियम

किसी भी काम को सही ढंग से करने जिस तरह से नियम होते हैं ठीक उसी प्रकार से आपका निवेश किया गया पैसा सुरक्षित हो और बढ़कर मिले।

उसके लिए आपको शेयर बाजार के नियमों से भी जागरूक रहना चाहिए जो कि ये हैं:

  • Unregistered Broker से बचें 
  • लॉन्ग टर्म के लिए अपने पैसे को निवेश करें
  • ट्रेडिंग के लिए सही समय को चुनें 
  • खुद से रिसर्च करके ही अपने पैसे को निवेश करें
  • इधर उधर की बातों से या टिप देने पर ध्यान ना दें
  • अपने रिस्क का आकलन करें

शेयर मार्केट से पैसे कमाने के तरीके

शेयर मार्केट में आप 3 तरीकों से पैसे कमा सकते हैं:

  1. Trading
  2. Investing
  3. Dividend

1. Trading: शेयर का प्राइस बढ़ने पर उस शेयर को उसी दिन या कुछ दिन बाद बेच कर आप पैसा कमा सकते हैं, इसे ट्रेडिंग कहते हैं. ट्रेडिंग भी कई प्रकार की होती है जैसे: इंट्रा डे ट्रेडिंग, स्विंग ट्रेडिंग, शोर्ट टर्म ट्रेडिंग, लॉन्ग टर्म ट्रेडिंग, फ्यूचर मार्केट ट्रेडिंग और ऑप्शन मार्केट ट्रेडिंग

2. Investing: जब आप अपने पैसे को शेयर मार्केट में डालकर बहुत ही लम्बे समय (जैसे: 5 साल, 10 साल, 15 साल आदि) के लिए होल्ड करते हैं तो उसे Investing कहते हैं. इसमें आपको compounding का बहुत ही फायदा मिलता है.

3. Dividend: Dividend वो हिस्सा होता है जो कंपनी को मुनाफा होने पर कंपनी के shareholders को मिलता है और उन shareholders को कम्पनी की तरफ से शेयर के बदले में बोनस मिलता है.

शेयर मार्केट कैसे सीखे?

किसी भी चीज़ को सीखने के लिए जिन चीज़ों की जरुरत पड़ती है आप उनकी खोज करके उनको सीखते हैं.

वैसे ही हमें शेयर मार्किट के बारे में सीखने के लिए जितने भी चीज़ों की जरुरत पड़ सकती है उन सभी resources को आपके साथ शेयर कर रहे हैं:

1. Online Course

आप ऑनलाइन कोर्सेज ज्वाइन करके  स्टॉक मार्किट के बारे में आसानी के साथ सीख सकते हैं. बस इस बात का ध्यान रखें कि जिससे सीख रहे हैं उसके पास कई साल का प्रैक्टिकल अनुभव होना जरूरी है. Udemy, Coursera आदि ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर आप कोर्स को देख सकते हैं.

2. Book Reading

शेयर मार्केट से सम्बन्धित किताबों को पढ़कर भी आप शेयर मार्केट के बारे में अपनी जानकारी बढ़ा सकते हैं. नीचे आपके साथ कुछ बेस्ट बुक्स शेयर की हैं उनको पढ़कर आप अपनी स्टॉक मार्किट की जर्नी को स्टार्ट कर सकते हैं.

3. Online Blogs/Videos

जिस तरह से आप इस ब्लॉग को पढ़कर अपनी स्टॉक मार्केट के बारे में जानकारी बढ़ा रहे हैं उसी तरह Youtube Videos स्टॉक मार्केट के बारे में देख कर भी अपनी जानकारी बढ़ा सकते हैं.

4. Follow Genuine Finance Consultant

आप जरूर किस सही Finance Consultant को किसी न किसी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर फॉलो जरूर करें। जैसे Neha Nagar और Pranjal Kamra

5. Practice Virtual Trading

वो कहते हैं “Practice Makes a Person Perfect” same चीज़ स्टॉक मार्किट में भी अप्लाई होती है. आप जितना ज्यादा प्रैक्टिस करेंगे उतना ज्यादा आप मार्केट को analyze करना और उसे समझना सीखेंगे।

शेयर मार्केट सीखने के लिए बेस्ट किताबें

ये एक लिस्ट हैं जिसमे आपको शेयर मार्केट की बेस्ट बुक्स मिलेंगी जिनसे आप शेयर मार्किट के बारे में इन्वेस्टिंग के बारे  में बहुत कुछ सीख सकते हैं. ये सभी बुक्स आपको अपनी हिंदी भाषा में मिलेंगी।

  1. Rich Dad Poor Dad
  2. The Intelligent Investor
  3. How to Avoid Loss and Earn Consistently in the Stock Market
  4. Romancing the Balance Sheet

शेयर बाजार में करियर

शेयर बाज़ार में आपके करियर में तरक्की का बहुत ज्यादा ही स्कोप है. आप अलग अलग प्रोफाइल के लिए शेयर बाजार में जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

यह हैं पॉपुलर प्रोफाइल जो आपकी स्टॉक मार्केट के करियर में चार चाँद लगा देंगे:

  • कैपिटल मार्केट स्पेशलिस्ट
  • स्टॉक ब्रोकर
  • सिक्योरिटी एनालिस्ट
  • मार्केटिंग एंड सेल्स रिप्रिज़ेंटेटिव्ज़
  • सिक्योरिटी रिप्रिज़ेंटेटिव्ज़

Conclusion

तो दोस्तों उम्मीद है कि इस आर्टिकल के मदद से आप जान पाए होंगे कि शेयर मार्केट क्या है? और शेयर मार्केट से जुड़ी हुई अन्य महत्वपूर्ण जानकारी भी. जो आपकी स्टॉक मार्केट की शुरुआती जर्नी में बहुत ही महत्वपूर्ण है.

इस आर्टिकल को अपने दोस्तों, फैमिली और चाहने वालों के साथ अपनी सोशल मीडिया प्रोफाइल्स फेसबुक, इंस्टाग्राम, व्हाट्सप्प, ट्विटर आदि पर शेयर करके उनको भी स्टॉक मार्किट के बारे में जानकारी दें ताकि वो भी शेयर मार्केट से पैसा कमा सकें।

FAQs:

Q1: शेयर मार्केट में कितनी कंपनियां हैं?

Ans: शेयर मार्किट में 2 बड़े एक्सचेंज हैं जिसमें BSE में 5000 कंपनियां लिस्टेड हैं और NSE में 2000 कंपनियां लिस्टेड हैं.

Q2: क्या शेयर मार्केट में पैसा लगाना उचित है?

Ans: हाँ भी और ना भी. हाँ उनके लिए जो शेयर मार्केट को सीखकर उसमे पैसा लगते हैं और ना उनके लिए जो सिर्फ इधर उधर की बात सुनकर बिना प्रॉपर लर्निंग के इसमें पैसा लगाते हैं.

Q3: शेयर मार्केट में कम से कम कितना पैसा लगा सकते है?

Ans: शेयर मार्केट में पैसा लगाने के लिए कोई मिनिमम लिमिट नहीं हैं. अगर आपके पास ₹100 हैं तो आप ₹100 का भी शेयर खरीद सकते हैं

Q4: शेयर का प्राइस कम या ज्यादा क्यों होता है?

Ans: शेयर का प्राइस कम या ज्यादा निन्म कारणों से हो सकता है:

1. कंपनी का परफॉर्मेंस
2. न्यूज़ के चलते
3. कंपनी के कुछ नए अनाउंसमेंट के कारण
4. डिविडेंड के कारण
5. बोनस या फिर शेयर buyback के कारण
6. डिमांड और सप्लाई के कारण
7. शेयर मार्केट में तेजी या मंदी के कारण
8. प्रमोटर होल्डिंग कम या ज्यादा होने पर

Leave a Comment